राष्ट्रीय रक्षा निधि

फेसबुक, whatsapp, ट्विटर आदि सोशल मीडिया पर जवानों (शसस्त्र बलों) के फोटो Post, Like, Comment करने और इसे देशभक्ति समझने वाले लोगो को थोरा सा ध्यान देने की जरूरत है इनसे इनकी देशभक्ति भले ही प्रदर्शित न हो परन्तु एक ऐसा माध्यम है जिसके द्वारा वे जवानो के प्रति अपनी निष्ठा, प्रेम, एवं देश के प्रति देशभक्ति दिखा सकते है| वह माध्यम है- राष्ट्रीय रक्षा निधि|
राष्ट्रीय रक्षा निधि
     हमारे देश के बहादुर सशस्त्र बल अपनी जान की बाजी लगाकर हमारी और हमारी देश की सेवा में तत्पर रहते है| हम में से हरएक नागरिक का भी यह कर्तव्य होना चाहिए की इन जवानों और उनके आश्रितों के हितो का ख्याल करे, उस पर विचार करें| राष्ट्रीय रक्षा कोष इसी से सम्बन्धित है| NDF- National Defence Fund In Hindi or Rashtriy Raksha Nidhi In Hindi

     राष्ट्रीय रक्षा प्रयासों को बढ़ावा देने हेतु नकद एवं वस्तुओं के रूप में प्राप्त स्वैच्छिक दान की जिम्मेदारी लेने और उसके इस्तेमाल पर निर्णय लेने के लिए राष्ट्रीय रक्षा कोष स्थापित किया गया था। इस कोष का इस्तेमाल सशस्त्र बलों (अर्द्ध सैनिक बलों सहित) के सदस्यों और उनके आश्रितों के कल्याण के लिए किया जाता है।

     यह कोष एक कार्यकारिणी समिति के प्रशासनिक नियंत्रण में होता है। इस समिति के अध्यक्ष प्रधान मंत्री होते हैं और रक्षावित्त तथा गृह मंत्री इसके सदस्य होते हैं। वित्त मंत्री इस कोष के कोषपाल होते हैं तथा इस विषय को देख रहे प्रधान मंत्री कार्यालय के संयुक्त सचिव कार्यकारिणी समिति के सचिव होते हैं। कोष का लेखा भारतीय रिजर्व बैंक में रखा जाता है। यह कोष जनता के स्वैच्छिक अंशदान पर पूरी तरह से निर्भर होता है और इसे किसी भी तरह की बजटीय सहायता नहीं मिलती है।

     इस कोष के लिए ऑनलाइन अंशदान स्वीकार किए जाते हैं। इस प्रकार के अंशदान pmindia.nic.in, pmindia.gov.in वेबसाइटों तथा भारतीय स्टेट बैंक की वेबसाइट www.onlinesbi.com के माध्यम से किए जा सकते हैं। एकत्रण खाता संख्या 11084239799 है जो भारतीय स्टेट बैंकइंस्टीट्यूशनल डिविजनचौथी मंजिलसंसद मार्गनई दिल्ली के पास है। कोष को एक स्थाई खाता संख्या (पैन)- AAAGN0009F आवंटित किया गया है।

राष्ट्रीय रक्षा कोष के अंतर्गत आने वाली स्कीम

  • प्रधानमंत्री ने सशस्त्र बल और अर्ध सैनिक बलों के मृत व्यक्तियों की विधवाओं और आश्रितों के लिए तकनीकी और स्नातकोत्तर शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए छात्रवृत्ति स्कीम अनुमोदित की है। यह स्कीम सशस्त्र बलों के संबंध में भूतपूर्व सैनिक कल्याण विभागरक्षा मंत्रालय द्वारा कार्यान्वित की जा रही है । जहां तक अर्ध सैनिक बल और रेल संरक्षण बल के कार्मिकों का संबंध हैस्कीम क्रमश: गृह मंत्रालय और रेल मंत्रालय द्वारा कार्यान्वित की जा रही है ।
  • एस.पी.जी परिवार कल्याण कोष को 15 लाख का वार्षिक अनुदान जारी किया गया है ताकि वे अपने कार्मिकों और उनके परिवार के हितों के लिए विभिन्न कल्याणकारी कार्य कर सकें।

राष्ट्रीय रक्षा निधि में अपना योगदान कैसे करे

राष्ट्रीय रक्षा कोष में अपना योगदान देने के लिए तथा अधिक जानकारी के लिए निचे दिए लिंक पर क्लिक करें   https://ndf.gov.in/
यहाँ आप personal details और Payment Details डालकर इस कोष में धन जमा कर सकते है|
भारत दुनिया के दुसरी सबसे बड़ी जनसंख्या वाला देश है| अगर हमारे देश के सभी लोग एक-एक रुपया भी अगर इस फण्ड में डालें तो यह रकम बहुत अधिक हो जाएगी और हमारे जवान का उत्साह अपने चरम सीमा पर होगाफिर उन्हें अपने आश्रितों की चिंता न रहेगीजब वह इस हालत में भी देश पर जान न्योछावर करने के लिए तत्पर रहते है फिर जब इन्हें राष्ट्रिय रक्षा कोष जैसे फण्ड के जरिए कल की चिंता न होगी तो भारत सैन्य शक्ति में दुनिया में सबसे आगे होगा|

     प्रिय विजिटर इस तरह आपने अवेयर माय इंडिया के हिंदी आर्टिकल राष्ट्रीय रक्षा निधि को पढ़ा| अगर आपका इससे संबंधित कोई प्रश्न या सुझाव हो तो कमेंट जरुर करें| आशा है की हमारे अन्य आर्टिकल की तरह ही आप इस आर्टिकल से भी लाभान्वित होंगे| हम इस बात को महसूस कर रहे है की आपके और बेहतर सुविधा के लिए इस साईट में कई सुधार किया जाना अपेक्षित है| आप सरीखे विजिटर के स्नेह और सुझाव से हम इस साईट में निरंतर सुधार कर रहे है और हमें विश्वास है की आगे के समयों में हम आपको और भी बेहतर सुविधा दे पाएंगें| लेकिन इस हेतु आपसे अनुरोध है की आप हमारे कांटेक्ट अस पेज के माध्यम से अपना विचार एवं अपना बहुमूल्य सुझाव हम तक जरुर प्रेषित करें| इस आर्टिकल को पढ़ने तथा अवेयर माय इंडिया साईट पर विजिट करने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद|

यह भी पढ़ें-

Leave a Reply

Your email address will not be published.