पृथ्वी के ताप कटिबन्ध

पृथ्वी के ताप कटिबन्ध

पृथ्वी के ताप कटिबन्ध या तापीय पेटियां अक्षांसो के समानांतर पाए जाते है. इन्हें विभिन्न कारक निर्धारित एवं प्रभावित करते है. इस आर्टिकल में आप पृथ्वी के ताप कटिबन्ध जैसे की विषुवतीय प्रदेश, अन्तः उष्णकटिबंधीय पेटी, उष्णकटिबन्धीय पेटी, उपोष्णकटिबंध, शीतोष्ण कटिबंध, शीत कटिबंध – टैगा, टुंड्रा, हिमाच्छादित प्रदेश के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी पाएंगें. पृथ्वी के ताप कटिबन्ध पृथ्वी पर तापमान की दशाएं पृथ्वी की अक्षांसीय वितरण, सूर्य की किरणों के तिरछेपन, सूर्यातप की मात्रा…

वायुदाब पेटियों में विचलन तथा प्रभाव

वायुदाब पेटियों में विचलन तथा प्रभाव

वायुदाब पेटियों की अक्षांसीय स्थिति एक आदर्श दशा है जो इसी रूप में वर्ष भर नहीं पाई जाती है. इसमें महासागरों एवं महाद्वीपों के वितरण और विषमता के कारण तथा पर्वत, पठार, मैदान घाटी जैसी स्थलाकृतिक कारकों के कारण वायुदाब पेटियों में विचलन पाया जाता है. वायुदाब पेटियों में विचलन के व्यापक प्रभाव होते है. इस आर्टिकल में आप इससे संबंधित बातों को पढेंगें. यह भी पढ़ें- पृथ्वी की वायुदाब पेटियां वायुदाब की बेसिक समझ सागरीय भागों पर…

आर्द्रता तथा संघनन के रूप

सापेक्षिक आर्द्रता

वायुमंडल में स्थित जल के गैसीय या वाष्पीकृत रूप को आर्द्रता humidity कहते है. यह क्षेत्र विशेष में उपलब्ध जल के स्त्रोतों एवं तापीय दशाओं से निर्धारित होती है. इसे आर्द्रता सामर्थ्य, निरपेक्ष आर्द्रता और सापेक्षिक आर्द्रता के संबंध में समझा जाता है. निश्चित तापमान एवं आयतन पर वायु में आर्द्रता धारण करने की एक अधिकतम क्षमता होती है. इसे आर्द्रता सामर्थ्य कहते है. वायु में उपस्थित आर्द्रता की मात्रा को निरपेक्ष आर्द्रता व्यक्त करता…

पृथ्वी के वायुमंडल के गर्म होने की प्रक्रिया

पृथ्वी का वायुमंडल गर्म कैसे होती है

आप इस पोस्ट में पढेंगें की पृथ्वी का वायुमंडल गर्म कैसे होती है. वायुमंडल के गर्म होने में पार्थिव विकिरण और इससे संबंधित ग्रीन हाउस प्रभाव का प्रमुख योगदान है. इसके अलावा इसमें संचलन और संवहन आदि का भी योगदान होता है. वायुमंडल के गर्म होने की प्रक्रिया को बेहतर तौर पर समझने के लिए इन्हें विस्तारपूर्वक समझना आवश्यक होगा. पृथ्वी का वायुमंडल गर्म कैसे होती है पृथ्वी पर तापमान का सबसे प्रमुख सूर्य है. सूर्य ही तापमान, ऊष्मा…

ऊष्मा बजट और सूर्यातप क्या है. इसे प्रभावित करने वाले कारक

उष्मा बजट किसे कहते है

पृथ्वी एवं इसका वायुमंडल सौर्यिक ऊर्जा की जितनी मात्रा को प्राप्त करता है उसके बराबर ही अन्तरिक्ष में वापस लौटा देता है, इसे उष्मा बजट या ऊष्मा संतुलन heat budget कहते है. आप इस आर्टिकल में ऊष्मा बजट के बारे में कई बातें जैसे की उष्मा बजट किसे कहते है. ऊष्मा संतुलन क्या है, के आलावा सूर्यातप किसे कहते है और सूर्यातप को प्रभावित करने वाले कारकों के बारे में भी पढेंगे. हीट बजट इन…

वाताग्र की उत्पत्ति कैसे होती है, इसके प्रकार एवं मौसमी प्रभावों की हिंदी में चर्चा

वाताग्र के प्रकार

वाताग्र पृथ्वी तल पर निम्न वायुदाब के क्षेत्र में विकसित एक विशिष्ट वायुमंडलीय परिघटना है. इसकी उत्पत्ति दो भिन्न प्रकृति की वायुराशियों के विपरीत दिशा से आकर अभिशरण करने से होती है. इस आर्टिकल में आप वाताग्र के बारे में विभिन्न बातों को विस्तार पूर्वक पढेंगें. जैसे की वाताग्र Front क्या है. वाताग्र की उत्पत्ति कैसे होती है. वाताग्र के प्रकार – स्थायी, संरोधित, शीत व उष्ण वाताग्र क्या है तथा इसके मौसमी प्रभाव क्या होते…

जेट स्ट्रीम या जेट वायुधारा क्या है, यह कहाँ चलती है?

जेट स्ट्रीम - जेट वायुधारा

जेट स्ट्रीम पृथ्वी की निचली वायुमंडल में तीव्र वेग से प्रवाहित होती है. आप इस पोस्ट में इससे संबंधित विभिन्न बातें जैसे की जेट प्रवाह क्या होता है या जेट वायुधारा क्या है, यह कहां चलती है, विभिन्न जेट धाराएं – उष्णकटिबंधीय पूर्वी जेट स्ट्रीम, ध्रुवीय जेट धारा, उपोष्ण पछुआ जेट प्रवाह क्या है, इसके प्रभाव क्या है, के बारे मे विस्तार पूर्वक पढेंगें. जेट स्ट्रीम डेफिनेशन इन हिंदी. जेट स्ट्रीम इन इंडिया. जेट स्ट्रीम या जेट वायुधारा क्या…